‘कोरोना वायरस’ पूरी दुनिया में धीरे-धीरे महामारी का रूप लेता जा रहा है। नवंबर-दिसंबर में चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ ये महामारी अब थमने का नाम नहीं ले रहा है।
कभी किसी ने सोचा नहीं था हमारे पास सब कुछ होते हुए भी, हम अपने घर में बंद रहने के लिए खुद-ब-खुद मजबूर हो जाएंगे। कोरोना-वायरस सभी के जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है।
2008 के आर्थिक संकट के बाद, पूरे विश्व के लिए 2020, आर्थिक संकट का वर्ष साबित होने वाला है। आयात-निर्यात रुक चुका है, अंतरराष्ट्रीय बाजार टूट रहा है। कोरोना-वायरस पूरे विश्व के लिए बहुत बड़ा संकट बना हुआ है
पूरे दुनिया में कोरोना से 300000 से अधिक लोग पीड़ित हुए हैं, जिसमें से लगभग 14000 से अधिक मृत्यु हो चुकी हैं । सबसे ज्यादा मृत्यु अब तक इटली में हुई है, इटली में मृतको की लाशों को उठाने वाला कोई नहीं है आर्मी की ट्रक में लाशे भर-भर के कब्रिस्तान भेजा जा रहा है। सोशल मीडिया पर आप देख चुके होंगे।


भारत में कोरोना की स्थिति की:
बताया जा रहा है, कोरोंना वायरस भारत में तीसरी चरण में है । माना ये जाता है- कोई विदेशी व्यक्ति से वायरस भारत में आता है तो यह पहला चरण है। दूसरे चरण में उस व्यक्ति से वायरस देश के अन्य लोगों में फैलता है, लेकिन पीड़ितों की संख्या कम रहती है। तीसरे चरण में देश के पीड़ित मरीज से, देश के अन्य नागरिक में फैलना शुरू हो जाता है। यहां तक पीड़ितों की संख्या कम होती है जिस पर काबू पाया जा सकता है।
अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन के रिपोर्ट:
अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन (W.H.O) के रिपोर्ट के मुताबिक, पहले 1,00,000 लोगों को कोरोना वायरस होने में 67 दिन का समय लगा । उसके बाद 11 दिन में ही कोराना से पीड़ित मरीजों की संख्या 2,00,000 हो गई, उसके बाद 3-4 दिन में ही, कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 3,00,000 से ज्यादा हो गई है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या कहा:
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया, कोरोना वायरस से बचने का हमारे पास कोई रास्ता नहीं है, सिवाय सामाजिक दूरी बनाए रखने के । दुनिया में कोरोना से उपचार के लिए कोई दवाई, कोई टीका नहीं बनाया गया है, हालांकि इस पर रिसर्च चल रहा है। अगर आपको कोरोना को हराना है तो, ‘सामाजिक दूरी’ ही एक उपाय है।
कोरोना वायरस लोगों से ही लोगों में फैलता है अगर सामाजिक दूरी बनाई जाएगी तो कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। इसलिए भारत सरकार ने, पूरे भारत में 21 दिन का लकडाउन घोषित किया। इस दौरान आप अपने घर में रहे, सामाजिक-दूरी बनाए रखें।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या कहा:
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया, कोरोना वायरस से बचने का हमारे पास कोई रास्ता नहीं है, सिवाय सामाजिक दूरी बनाए रखने के । दुनिया में कोरोना से उपचार के लिए कोई दवाई, कोई टीका नहीं बनाया गया है, हालांकि इस पर रिसर्च चल रहा है। अगर आपको कोरोना को हराना है तो, ‘सामाजिक दूरी’ ही एक उपाय है।
कोरोना वायरस लोगों से ही लोगों में फैलता है अगर सामाजिक दूरी बनाई जाएगी तो कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। इसलिए भारत सरकार ने, पूरे भारत में 21 दिन का लकडाउन घोषित किया। इस दौरान आप अपने घर में रहे, सामाजिक-दूरी बनाए रखें।

Source:- http://com-safe.org

Leave Comment

About

comretail.org is computer and service related retail classified website. A large number of freelancers and companies are members of this community. Our classifieds section includes all kind of computer work from making website to content creation and digital marketing.

Back to top
Close Offcanvas Sidebar