एस्ट्रॉयड को हिंदी में उल्कापिंड कहते हैं। सोशल मीडिया पर यह खबर बहुत तेजी से वायरल हो रही है कि 29 अप्रैल को दुनिया का विनाश हो जाएगा। क्या ऐसा सच में हो सकता है!
इसके पीछे सच्चाई क्या है? क्या यह अफवाह है? क्या है नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी?

अमेरिका के स्पेस एजेंसी नासा ने धरती की तरफ तेजी से बढ़ एक विशालकाय उल्कापिंड की खोज की है। बताया जा रहा है कि उल्कापिंड माउंट एवरेस्ट से भी कई गुना ज्यादा बड़ा है।

हालांकि, नासा का कहना है कि इस उल्कापिंड से घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह पृथ्वी से कई किलोमीटर दूरी से गुजरेगा। वहीं कुछ वैज्ञानिकों ने इसके धरती से टकराने की संभावना व्यक्त की है।



31319 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आ रहा, यह उल्कापिंड जिसका नाम 52768 (1998 OR 2) दिया गया है। इस उल्कापिंड को सबसे पहले 1998 में देखा गया था।

अनुमान यह है कि यह उल्कापिंड 29 अप्रैल को धरती के पास से गुजरेगा। इस बारे में डॉ स्टीवन प्राव्दो ने बताया कि यह उल्कापिंड सूर्य का एक चक्कर लगाने में 1340 दिन लगाता है।

1994 में एक ऐसी ही घटना घटी थी। पृथ्वी के बराबर के 10-12 उल्का पिंड बृहस्पति ग्रह से टकरा गए थे जहां का नजारा महाप्रलय से कम नहीं था। आज तक उस ग्रह पर उनकी आग और तबाही शांत नहीं हुई है।

हालांकि यह भी हो सकता है कि इस भयानक टक्कर के कारण धरती अपनी धूरी से ही हट जाए और अंधकार में समा जाए। नास्त्रेदमस तृ‍‍तीय विश्व युद्ध के बारे में भी भविष्यवाणी करते हैं कि ‘एक पनडुब्बी में तमाम हथियार और दस्तावेज लेकर ‘वह व्यक्ति’ इटली के तट पर पहुंचेगा और युद्ध शुरू करेगा। उसका काफिला बहुत दूर से इतालवी तट तक आएगा।’

‘एक मील व्यास का एक गोलाकार पर्वत अं‍तरिक्ष से गिरेगा और महान देशों को समुद्री पानी में डूबो देगा। यह घटना तब होगी जब शांति को हटाकर युद्ध, महामारी और बाढ़ का दबदबा होगा। इस उल्का द्वारा कई प्राचीन अस्तित्व वाले महान राष्ट्र डूब जाएंगे।”

29 अप्रैल 2020 की तारीख में कितना सच

अब हम इस पूरे मामले के सच तक पहुंचते हैं जहां तक 29 अप्रैल 2020 की बात है, ये बात एकदम सच है कि इस दिन एक एस्टेरॉयड हमारे सौर मंडल से गुज़रेगा एस्टेरॉयड Watch के Twitter Handle पर इसकी आधिकारिक जानकारी देखी जा सकती है ये पृथ्‍वी के बहुत पास से गुजरेगा लेकिन टकराएगा नंही।

साल 1998 में अमेरिका की अंतरिक्ष शोध अनुसंधान एजेंसी NASA को इस Asteroid के बारे में पता चल गया था यदि ये वास्‍तव में पृथ्‍वी से टकरा जाता है तो बड़ी तबाही ला सकता है, गनीमत है कि ऐसा कुछ नहीं होने जा रहा है इस ग्रह से अभी तो घबराने की फिलहाल कोई जरूरत नहीं है।

लेकिन आज से ठीक 59 साल बाद यानी वर्ष 2079 में यही लघु ग्रह के पृथ्‍वी के निकट आने की संभावना है। वैज्ञानिकों ने इसकी गणना की है इसके अनुसार, ये 16 अप्रैल 2079 को हमारी धरती के पास से गुजरेगा। कुल मिलाकर सोशल मीडिया पर इस संबंध में चल रही तमाम खबरें महज अफवाह हैं।

source:- http://com-safe.org

Leave Comment

About

comretail.org is computer and service related retail classified website. A large number of freelancers and companies are members of this community. Our classifieds section includes all kind of computer work from making website to content creation and digital marketing.

Back to top
Close Offcanvas Sidebar